Tuesday, September 16, 2008

आवारा औरत



(पसंद से साभार)

मंजुला दो भाइयों की अकेली बहिन थी। छोटे से क़स्बे में पली-बढ़ी मंजुला ने स्नातकोत्तर तक की शिक्षा प्राप्त की और प्रायवेट कंपनी में काम करने लगी। उसने भी जीवन के वही सपने देखे जो हर लड़की देखती है। पिता ने अनेक वर ढूंढ़े पर कोई लड़का पसंद नहीं आया। एक दिन पिता खीज गए और लड़की को ताने देने लगे। लड़की महसूस कर गयी और कह दिया कि अगली बार कोई लड़का ढूंढ़ा जाएगा तो वह कुछ नहीं कहेगी।पिता ने एक बड़े शहर में लड़का ढूंढा। लड़के की शिक्षा असल से ज़्यादा बताई गई, उसका पद और तन्ख्वाह भी असल से ज़्यादा बताए गए। चूँकि रिश्ता रिश्तेदार करवा रहे थे तो ज़्यादा पूंछ्ताछ नहीं की गयी। लड़्की ने तो कुछ न बोलने का प्रोमिस कर ही दिया था सो शादी हो गयी।शादी होकर मंजुला ससुराल आगयी।

एक दिन अचानक ससुर का देहावसान हो गया। घर में मंजुला और उसके पति के अलावा उसकी सास और दो देवर थे। ससुर के मरने पर सास तो उदासीन हो गयी। मंजुला को घर की सारी ज़िम्मेदारी दे दी गयीं। वह चुपचाप सबकुछ करती रही। तभी उसे पता चला कि उसका पति न तो उतना कामाता है और न ही उसकी उतनी शिक्षा है। इतना ही नहीं वह शराब भी जी भरकर पीता है, जिसकारण से घर में पैसा भी नहीं देता है। बहुत निराश हुई मंजुला, फिर भी सोचा कि चलो पति को समझाया जाए शायद कुछ ठीक हो जाए पर कहाँ? वह तो मारपीट और करने लगा। रोज झगड़े होने लगे। सास तो बहु को ही कसूरवार ठहराती। देवर कुछ बीच में ही नहीं पड़ते। इसी बीच मंजुला ने एक पुत्र को जन्म दिया। कुछ समय बाद मंजुला ने पुनः जॉब पर जाने की सोची तभी सास ने बच्चे को रखने से मना कर दिया। अब क्या था निराश-हताश और परेशान मंजुला पैसे-पैसे को तरस गयी। एक दिन पति से अत्यधिक सतायी जाने पर उसने अपने बच्चे के साथ घर छोड़ दिया। अकेले अपनी किसी सहेली की मदद से किराए पर घर ले लिया। बच्चा क्रेचे में छोड़कर नई नौकरी करने लगी। चूंकि वह अकेली रहती थी तो ससुरालवाले जलभुन गए, क्योंकि इसतरह अकेली रहकर उनकी नाक काट रही थी वह। घर-बाहर के कई लोगों को समझाने के लिए भेजा। पर मंजुला अब और न सह सकती थी सो अडिग रही।

धीरे-धीरे मंजुला अपने को सहज बनाने की कोशिश करती रही। वह इतनी व्यस्त रहती कि किसी से बात भी न कर पाती लोगों ने अनेक तुक्के लगाने शुरु कर दिए। उसे अवारा और चरित्रहीन भी कहा जाने लगा। पुरुष उससे हंस-हंसकर बात करने की कोशिश करते और घर जाकर अपनी स्त्रियों से उससे बात करने से मना करते क्योंकि वह अच्छी स्त्री नहीं थी। स्त्रियाँ बिना जाने-बूझे उसे अवारा कहतीं। वह पूरी गली में अच्छी औरत नहीं मानी जाती। आते-जाते उसे अजीब नज़रों से देखा जाता! पर वह किसी बात की परवाह किए बिना अपनी ज़िंदगी जीती रही ऐसा नहीं था कि वह कभी पिघलकर आँसू नहीं बनती थी, पर उसे अपना जीवन-यापन करना आता था।

7 comments:

Rohit Tripathi said...

Kya kahe....... Jab Ek aurat ko hi ek aura pe bharosa na ho to

New Post :
I don’t want to love you… but I do....

arun prakash said...

yathath par tiki hui kahanii . achha laga padh kar

right to information...... janane ka hak.... said...

mujhe yah kahani bahut pasand aai. aaj aurat ko isi atmvishwas ki jarurat hai taki wo apna astitwa kayam rakh sake

eklavya said...

सच मैं बहुत ही अच्छी कहानी थी. . यह कहानी ,कहानी ना होकर समाज मैं घट रही घटनाओ की कटु सच्चाई है. समाज औरत को अकेले रहने नही. देता यदि वो अपने पुरुष मित्र के साथ रहना चाहे जैसे की लिव इन रीलेशन मैं रहते है उस पर व्यभिचारी होने की तोहमत लगा देता है.लेकिन भूखे को कोई रोटी देने के लिए आगे नही आता. लोग मज़बूरी पर हंस तो सकते है लेकिन सहायता के लिए कोई आगे नही आत.एक भाई साब ने एक लेख लिखा कर्वाचोथ बनाम लिविन उस मैं उन्होने करवा चोथ को बहुत महिमा मंडित किया लेकिन मैं यह जानना चाहता हूँ की इस समाज मैं जब कोई विवाहित औरत दहेज के लिए प्रताड़ित होती है मारी जाती है क्या तब भी करवा चोथ अपनी महिमा पर इतराती है.जब औरत दिन रात एक कर घर के बाहर और घर के अंदर काम मैं ख़टती है तब क्या करवा चोथ लिविन को देख जलती नही है. लोग दूसरे पर एक उंगली उठाने से पहलेये भूल जाते है की बाकी की चार उंगली उनकी तरफ है.

premlatapandey said...

यह लेख पसंद ब्लॉग के ब्लेखिका से बिना पूछे साभार आपने छाप दिया वहाँ लगा कॉपी राइट का निशान आपने नहीं देखा कृअपया इसे यहाँ से मिटा दें। मैंने किसी को भी अपने लेख मेरीसे पूछे बिना छापने की अनुमति नहीं दी है। आपने न तो म्रेरे ब्लोग का पता लिखा हैअ और न हीं ब्लोग-राइअटर का नाम। इसे तुरंत हटाने का कष्ट करें।
- प्रेमलता पांडे

Udan Tashtari said...

प्रेमलता जी की आपत्ति पर ध्यान दिया जाये. लेखक की पूर्वानुमति तो आवश्यक है.

sa said...

AV,無碼,a片免費看,自拍貼圖,伊莉,微風論壇,成人聊天室,成人電影,成人文學,成人貼圖區,成人網站,一葉情貼圖片區,色情漫畫,言情小說,情色論壇,臺灣情色網,色情影片,色情,成人影城,080視訊聊天室,a片,A漫,h漫,麗的色遊戲,同志色教館,AV女優,SEX,咆哮小老鼠,85cc免費影片,正妹牆,ut聊天室,豆豆聊天室,聊天室,情色小說,aio,成人,微風成人,做愛,成人貼圖,18成人,嘟嘟成人網,aio交友愛情館,情色文學,色情小說,色情網站,情色,A片下載,嘟嘟情人色網,成人影片,成人圖片,成人文章,成人小說,成人漫畫,視訊聊天室,a片,AV女優,聊天室,情色,性愛